कैराना में 73 व भंडारा-गोंदिया के 49 बूथों पर कल फिर मतदान

0
157

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र सहित देश के अलग-अलग राज्यों में पड़ने वाली 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के मतदान के दिन कई बूथों पर ईवीएम और वीवीपैट मशीन में आई गड़बड़ी की खबरों के बाद चुनाव आयोग ने कैराना की 73 और महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया के 49 बूथों पर पुनर्मतदान करवाने का फैसला किया है। चुनाव आयोग ने कहा है कि मतदान बुधवार यानी 30 मई को ही कराए जाएंगे। उपचुनाव के नतीजे 31 मई को घोषित किये जाएंगे। मिली जानकारी के अनुसार, राज्य चुनाव आयुक्त ने कैराना के 73 बूथों पर पुनर्मतदान कराने की अनुशंसा की थी, जिसे चुनाव आयोग ने मान लिया है।
बता दें कि सोमवार को उपचुनाव के दौरान कैराना और भंडारा-गोंदिया लोकसभा और नूरपुर विधानसभा क्षेत्र से बड़ी संख्या में ईवीएम और वीवीपैट मशीनें खराब होने की शिकायतें मिली थीं। खुद चुनाव आयोग ने कैराना में 20.82 फीसदी वीवीपैट मशीनों के बदले जाने की बात स्वीकार की थी। वीवीपैट मशीनें ईवीएम से जुड़ी होती हैं, जिनमें गड़बड़ी के चलते कई जगह मतदान प्रभावित हुआ था। हालांकि, ईवीएम में खराबी की बात को चुनाव आयोग ने बढ़ा-चढ़ाकर की गई शिकायतें करार दिया है, जबकि वीवीपैट में खराबी के लिए भीषण गर्मी और मतदान कर्मियों की अनुभवहीनता को जिम्मेदार ठहराया है। कैराना के अलावा महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया में 19.22 फीसदी और पालघर लोकसभा क्षेत्र में 13.16 फीसदी वीवीपैट खराब होने की वजह से बदलनी पड़ी थीं। इतनी बड़ी तदाद में वीवीपैट खराब होने से चुनाव आयोग की साख पर भी सवाल उठ रहे हैं।
गौरतलब है कि राजनीतिक दलों ने चुनाव आयोग से पुनर्मतदान कराने की मांग की थी। सबसे पहले भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल ईवीएम में गड़बडि़यों की शिकायतें लेकर चुनाव आयोग पहुंचा था। बाद में ईवीएम में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी को लेकर सपा के रामगोपाल यादव, रालोद अध्यक्ष अजित सिंह और कांग्रेस के आरपीएन सिंह चुनाव आयुक्त से मिले थे। आयोग ने मंगलवार को इस मामले में अपने पर्यवेक्षकों से रिपोर्ट प्राप्त करने के बाद पुनर्विचार कर ये फैसला लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here